सुलतानपुर: शहर के प्रतिष्ठित वरिष्ठ अधिवक्ता अरविंद सिंह राजा की फेसबुक आईडी हैक, हैकर ने संम्बन्धितो से मागें रुपये, मुकदमा दर्ज


सुलतानपुर। विनीत गुप्ता: सिविल कोर्ट सुलतानपुर के जाने माने फौजदारी के वरिष्ठ अधिवक्ता अरविंद सिंह राजा की साइबर शातिरों ने फेसबुक आइडी हैक कर ली और उसके बाद उनके परिचितों को मैसेज भेजकर रुपयाें की जरूरत बताते हुए रुपयो की मांग करने लगा। अधिवक्ता को अपनी फेसबुक आइडी के हैक होने की जानकारी अपने साथी दिग्विजय सिंह के माध्यम से हुयी। आईडी हैक होने का पता चलने पर अधिवक्ता ने अपनी फेसबुक प्रोफाइल पोस्ट डालकर साइबर शातिरों के प्रति लोगों को सचेत किया। यदि थोड़ी भी असावधानी बरती तो सोशल मीडिया सहूलियत की जगह बड़ी मुसीबत बन सकता है। फिर वो चाहे कानूनी दाव पेंचों से दिन रात खेलने वाले ही क्‍यों न हो। शहर के माने जाने अधिवक्‍ता सोशल मीडिया की इसी चूक में फंस गए। 

सुलतानपुर शहर के निवासी अरविंद सिंह राजा पेशे से अधिवक्ता हैं। हाल ही मे उनकी फेसबुक आइडी साइबर शातिरों ने हैक कर ली और उसके बाद शातिरों ने दो दर्जन से ज्यादा परिचितों को फेक फेसबुक आईडी व व्हाट्सएप के माध्यम से मैसेज भेजा। उनसे जरूरत बताते हुए 15-20 हजार रुपये मांगे। शातिरों ने यह रकम पेटीएम या गूगल पे एप के माध्यम से खाते में भेजने को कहा। ऐसा ही एक मैसेज जब प्रतापगढ़ निवासी दिग्विजय सिंह को आया तो अधिवक्ता के संपन्न होने के चलते दिग्विजय सिंह को आए मैसेज पर शक हो गया। उन्होंने तत्काल अधिवक्ता को इसकी जानकारी दी। इस पर अधिवक्ता ने फेसबुक पर जु़ड़े अन्य परिचितों से संपर्क किया तो पता चला कि उन सभी से भी 15- 20 हजार रुपये मांगे गए हैं। वरिष्ठ अधिवक्ता राजा ने अपने फेसबुक पर साइबर शातिरों से सावधान करने के लिए मैसेज पोस्ट किया व लोगों को साइबर शातिरों के प्रति सचेत किया। अधिवक्ता अरविंद सिंह राजा ने मामले की सुचना पुलिस विभाग को दी है।

साइबर सेल के मुताबिक, फेसबुक ,मैसेंजर,व्हाट्सएप पर मदद का मैसेज आने पर सावधान हो जाएं। जिस किसी की आईडी है, उसकी असली आईडी को देखे हैं। कई बार साइबर अपराधी फेक आईडी बनाते हैं। इसमें नाम और फोटो एक जैसा ही रखते हैं। कई बार आईडी को हैक भी कर लेते हैं। इसलिए जिस व्यक्ति की आईडी से मदद मांगी जा रही है, उसको कॉल कर लें। इससे सही और गलत का पता चल जाएगा। फेसबुक आईडी को ज्यादा दिन तक निष्क्रिय नहीं रखें।


Leave a Reply

Your email address will not be published.