पटना पुलिस की जांच से बौखलाई मुंबई पुलिस, IPS विनय तिवारी को जबरन किया क्वारंटीन


पटना। विवेक रॉय: सुशांत सिंह राजपूत आत्महत्या केस की जांच कर रहे IPS अधिकारी विनय तिवारी को BMC ने जबरन क्वारंटीन कर दिया है। इसकी जानकारी बिहार पुलिस के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने फेसबुक पोस्ट के माध्यम से दी है। बिहार पुलिस के तेजतर्रार आईपीएस अधिकारी विनय तिवारी ने मुम्बई पहुंचते ही कहा था कि उनकी टीम एक सप्ताह से मुम्बई में है और जांच को सही दिशा में आगे ले जा रही है।

बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पाण्डेय का ने सोशल मीडिया फेसबुक पर पोस्ट कर इसकी जानकारी लोगो को दी। बिहार पुलिस की टीम पिछले एक हफ्ते से मुंबई में सुशांत मामले की जांच कर रही थी। पटना सेट्रल एसपी विनय तिवारी टीम को लीड करने के लिए रविवार को मुंबई पहुंचे और गोरेगांव में किसी निजी गेस्ट हाउस में रुके हुए थे। उन्हें मुंबई पुलिस के तरफ से IPS मेस में आवास नहीं दिया गया।

रविवार देर शाम उनके पास BMC की टीम पहुंची और दूसरे राज्य से आने के कारण का हवाला देते हुए 14 दिनों के लिए क्वारंटीन कर दिया। यानी, आईपीएस अधिकारी विनय तिवारी 14 दिनों तक किसी से नहीं मिल सकते हैं औऱ एक कमरे में ही बंद रहेंगे।

मुंबई पुलिस अपनी इस हरकत को कोरोना महामारी के काल में क्वारंटीन की संज्ञा दे रही है, लेकिन स्पष्ट भाषा में इसे नजरबंद करना कहेंगे। आपको बता दें की पूर्व में भी मुंबई पुलिस ने बिहार पुलिस की टीम के साथ कैदियों जैसा व्यवहार किया था। मीडिया में जिसकी काफी किरकिरी भी हुई थी।


Leave a Reply

Your email address will not be published.