गाजीपुर: पुलिस की आम जनता से दबंगई, घर में ज़बरदस्ती घुसकर किया हमला


गाजीपुर। एकरार खान: प्रदेश में पुलिसिया उत्पीड़न के लगातार मामले सामने आ रहे है। पुलिस पर आम जनता के सुरक्षा की जिम्मेदारी होती है लेकिन पुलिस किताना जिम्मेदारी से काम कर रही है इसका नजारा आज गाजीपुर के दिलदारनगर में देखने को मिला है जहां पुलिस पर एक फल विक्रेता को पीटने का आरोप लगा है। दिलदारनगर गांव का रहने वाला फल विक्रेता सलीम पुलिस उत्पीड़न और उनके द्वारा मारपीटने से घायल अस्पताल में भर्ती है। पुलिस की पिटाई से सलीम का एक पैर टूट गया है। वहीं पीड़ित सलीम का आरोप है कि मेरे घर मे घुसकर बीती रात पुलिस द्वारा उन्हें मारा- पीटा गया है और मेरे पैर को तोड़ दिया गया है और मेरे पास में मौजूद 20 हजार रूपये भी लेकर चले गए है।

दरअसल ग़ाज़ीपुर के दिलदारनगर थाना इलाके के दिलदारनगर गाँव में बीती रात दो बजे स्थानीय निवासी सलीम कुरैशी पुत्र स्वर्गीय अमीरूल्लाह के घर में ज़बरदस्ती घुसकर पुलिस द्वारा हाँथ पैर तोड़ने और पैसा छीनने के आरोप लगा है। साथ ही पुलिस पर पीड़ित परिजनों ने घरेलू महिलाओं से हाथा पाई, छीना झपटी का आरोप भी लगा रहे है। फिलहाल मामले में एसपी डॉ ओमप्रकाश सिंह ने बताया कि मामले की जांच सीओ जमानियां को दिया गया है। जांचोपरांत कार्रवाई की जाएगी। वहीं पीड़ित सलीम की पत्नी सरवरी के मुताबिक रविवार की मध्य रात्रि 2 के लगभग घर का दरवाज़ा बंद कर हम सभी परिवार वाले सो रहे थे कि तभी अचानक चार से पाँच पुलिस के लोग आये और दरवाजा खोलने को बोले मेरे पति ज्यों ही दरवाजा खोले तो इनको घसीटकर ले जाने लगे।

हमने विरोध किया तो हमें थप्पड़ मारने लगे। पीड़ित की पत्नी ने ये भी बताया कि पुलिस वाले ने गोली मारने की धमकी देते हुए भद्दी-भद्दी गालियाँ देने लगे और राड नुमा डन्डे से मारते हुए घर से बाहर घसीटकर ले जाने लगे। जब मेरे पति को कई डन्डे मार दिया तो मेरे पति बेहोश हो गये। इनके चड्डी वाले पाकेट में रखे लगभग 20 हज़ार रूपये निकाल लिए। मेरे पति 20 हजार रुपये फल खरीद के लिए रखे थे । उसके बाद पुलिस वाले मेरे पति को बीच गली में ही छोड़ कर फरार हो गए। हमारे पति पिछले कई वर्षों से दिलदारनगर बाज़ार में सरैला चट्टी पर ठेला लगा कर फल बेचते हैं। हम गरीब लोग हैं। हमारा एकमात्र सहारा हैं हमारे पति। पुलिस वाले की इस कायराना हरकत से हम आहत हैं। इनको कड़ी से कड़ी सजा मिलनी चाहिए। हमारे कप्तान साहब, डीएम, साहब और मुख्यमंत्री योगी जी इन्साफ की गुहार लगाई।

वहीं अस्पताल में इलाज कराने आये गंभीर रूप से घायल सलीम कुरैशी की हालत को देखते हुए जिला अस्पताल के डॉक्टरों पीड़ित सलीम कुरैशी के बेहतर इलाज के लिए वाराणसी रेफर कर दिया है। सलीम कुरैशी का एक पैर टूट कर झूल गया है।


Leave a Reply

Your email address will not be published.