यूपी पंचायत चुनाव : ग्राम प्रधान इलेक्शन जीतने के लिए BJP 15 से 21 अक्तूबर तक बनाएगी विशेष रणनीति


लखनऊ। आकाश यादव: भाजपा प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने कहा है कि गांव, गरीब, किसान का आत्मनिर्भर होना पंचायत चुनाव में भाजपा की विजय का माध्यम बनेगा। गांवों की सम्पन्न्ता से राष्ट्र की आत्मनिर्भरता का मार्ग प्रशस्त होगा। उन्होंने कहा कि ब्लाक स्तर तक पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ होने वाली बैठकों में पंचायत चुनाव की रणनीति को धरातल पर उतारने का काम किया जाएगा। 15 से 21 अक्तूबर तक जिला स्तर पर पंचायत चुनाव के लिए बैठकें होंगी। पार्टी का पूरा जोर मतदाता सूची में सहयोग करने पर केन्द्रित रहेगा।

स्वतंत्र देव सिंह ने सोमवार को पार्टी के प्रदेश मुख्यालय पर पंचायत चुनाव की तैयारियों की समीक्षा की। इस चुनाव में पार्टी तय रणनीति के तहत कैसे सफल हो इसका मंत्र दिया। उन्होंने कहा कि सभी को मतदाता सूची के काम में जुटना है। मतदाता सूची सर्वस्पर्शी हो इसकी चिन्ता हम सभी को करनी है। कोई भी व्यक्ति मताधिकार से वंचित ना रहे इसे ध्यान में रखना है। पार्टी सतत प्रवास व संवाद के द्वारा गांव, चैपाल व मजरों तक पहुंचेगी। उन्होंने कहा कि प. दीनदयाल उपाध्याय के अन्त्योदय दर्शन को मूर्तरूप देने का कार्य ग्राम देवता की खुशहाली व सम्पन्न्ता से ही शुरू होता है।

प्रदेश महामंत्री (संगठन) सुनील बंसल ने कहा कि भाजपा कार्यकर्ता जब पंचायत चुनाव में निर्वाचित होगा तो प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी तथा मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की सरकारों के निर्णयों, नीतियों तथा जनकल्याणकारी योजनाओं से गांव का विकास और भी तेजी से होगा। पंचायत चुनाव के लिए जमीनी कार्य प्रारम्भ करना है। कार्यकर्ताओं की शक्ति व सहभागिता से संगठन योजना के अनुसार इस चुनाव में निश्चित सफल होगा। 15 से 21 अक्तूबर तक जिला स्तर पर पंचायत चुनाव के लिए बैठकें होंगी। पार्टी का पूरा जोर मतदाता सूची में सहयोग करने पर केन्द्रित रहेगा। प्रदेश उपाध्यक्ष व पंचायत चुनाव के प्रदेश संयोजक विजय बहादुर पाठक ने कमिश्नरी मुख्यालयों पर पंचायत चुनाव को लेकर हुई बैठकों का ब्यौरा प्रस्तुत किया।


Leave a Reply

Your email address will not be published.