कन्नौज: पुलिस का अनोखा न्याय, चोरी से बरामद भैंस के मालिक को पहचानने का काम खुद भैंस से करवाया


कन्नौज। विवेक दीक्षित: यूपी के कन्नौज जिले में चोरी हुई भैस की बरामदगी होने के बाद पुलिस का अनोखा न्याय पूरे कन्नौज में चर्चा का विषय बना हुआ है पुलिस ने चोरी की बरामद भैंस के मालिक को पहचानने का काम खुद भैंस से करवाकर पीड़ितों को न्याय दिलवाया। दरअसल तिर्वा कोतवाली में दो अलग अलग स्थानों पर दो लोगो की भैंस चोरी हुई थी मुखबिर की सूचना पर पुलिस ने चोरी की एक भैंस बरामद कर ली थी। भैंस को लेने के लिए जब दोनो पक्ष एक साथ मौके पर पहुचे तो दोनो ने भैस उनकी होने की दावेदारी की। पुलिस जब फैसला नही कर सकी तो भैंस को बीच मे छोड़ दिया। फिर क्या था भैंस ने अपने असली मालिक को पहचान लिया और उसके पास जाकर खड़ी हो गयी।

कन्नौज के तिर्वा कोतवाली क्षेत्र के अलीनगर निवासी धर्मेंद्र की भैंस तीन दिन पहले चोरी हो गयी थी। तीन दिन पहले ही तालग्राम के वीरेंद्र की भैंस भी चोरी हुई थी। मुखबिर की सूचना पर पुलिस ने चोरी की भैंस बरामद कर ली। भैंस बरामद होने की जानकारी मिलते ही धर्मेंद्र और वीरेंद्र तिर्वा कोतवाली पहुंच गये। दोनों भैंस पर अपना दावा कर रहे थे। जब पुलिस दोनों का फैसला नही करवा पायी तो उसने न्याय भैंस पर छोड़ दिया कि वह अपने मालिक को खुद पहचानने।

कोतवाली के एसएसआई विजयकांत मिश्र ने दोनों दावेदारों के बीच मे भैंस छोड़ दी। दोनों ने आवाज देकर भैंस को अपनी तरफ बुलाया। थोड़ी देर बाद भैंस ने अपने असली मालिक धर्मेंद्र को पहचान लिया और उसके पास जाकर खड़ी हो गयी। एसएसआई के इस सूझबूझ भरे निर्णय की जमकर सराहना हो रही है। भैंस का दूसरा दावेदार भी इस फैसले से सहमत हो गया। वह चुपचाप अपने गांव वापस चला गया।


Leave a Reply

Your email address will not be published.