कन्नौज: बीएसएफ के शहीद जवान वीरपाल सिंह का पार्थिक शरीर के अंतिम दर्शन करने के लिए गाव में उमड़ा हुजूम


कन्नौज। विवेक दीक्षित: कश्मीर के सुंदरी वन पाकिस्तान सीमा पर तैनात बीएसएफ के शहीद जवान वीरपाल सिंह का पार्थिक शरीर उनके ग्रह जनपद कन्नौज के गांव भिग्गीपुरवा पहुँचा। शहीद के अंतिम दर्शन करने के लिए गाव में हुजूम उमड़ पड़ा, शहीद के परिजनों का रो रोकर बुरा हाल रहा। शहीद को अंतिम विदाई देने पहुचे अधिकारियों ने शहीद के जनाजे को कंधा दिय्या। इसके बाद अंत्येष्ठि स्थल पर शहीद जवान को पूरे राजकीय सम्मान के साथ अंतिम विदाई दी गयी।

इस मौके पर प्रदेश सरकार के सहकारिता मंत्री मुकुट बिहारी वर्मा भाजपा सांसद सुब्रत पाठक डीएम राकेश कुमार मिश्रा पुलिस अधीक्षक अमरेन्द्र प्रसाद सिंह भी मौजूद रहे।

आपको बता दे कि शहीद बीएसएफ जवान वीरपाल सिंह देश की सीमा की सुरक्षा करते हुए शहीद हो गए। शहीद वीरपाल सिंह जम्मू कश्मीर के सुंदरी वन में तैनात थे, सीमा पर घुसपैठ रोकने के लिए वह अपने साथियों के साथ पाकिस्तान बॉर्डर पर पेट्रोलिंग कर रहे थे, तभी ऊंची पहाड़ी से उनका पैर फिसल गया और वह 50 मीटर गहरी खाई में जा गिरे। गम्भीर हालत में शहीद जवान को अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां 2 सितंबर की रात जवान ने दम तोड़ दिया। शहीद वीरपाल सिंह अपने पीछे एक बेटा तीन बेटियों को छोड़कर चले गए। शहीद वीरपाल सिंह 1995 में बीएसएफ में भर्ती हुए थे वह जनवरी में गाव आये थे और फरवरी में बेटी की शादी कर वापस कश्मीर लौट गए थे।


Leave a Reply

Your email address will not be published.