एटा: पुलिस को मिली बड़ी सफलता, इलेक्ट्रॉनिक सर्विलांस की मदद से ऑनलाइन ठगी करने वाले गिरोह का किया भंडाफोड़


एटा। तारिक़ अहमद: आज एटा में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सुनील कुमार सिंह के निर्देशन में थाना कोतवाली नगर पुलिस द्वारा थाना कोतवाली नगर पर पंजीकृत मुअसं- 550/20 धारा 420 भादवि व 66C, 66D सूचना प्रौद्योगिकी अधिनियम की घटना में फरार चल रहे आरोपियों को इलेक्ट्रॉनिक सर्विलांस की मदद से गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त की गई है।

श्रीमती रीता सिंह (काल्पनिक नाम) पत्नी स्वर्गीय श्री सुरेंद्र सिंह निवासी श्याम नगर एटा द्वारा थाना कोतवाली नगर पर इस आशय की सूचना दी गई कि वादिया एक अध्यापक है, वादिया के पति की मृत्यु हो जाने पर वादिया ने अपने जीवन यापन करने हेतु जीवन साथी डाॅट काॅम के माध्यम से शादी करने हेतु लगभग 2 वर्ष पूर्व अपना रजिस्ट्रेशन किया था। उसके बाद उसका प्रयोग यदा-कदा किया, लेकिन दिनांक 08.05.2020 को वादिया के पास एक नम्बर से फोन आया कि मैं डा0 राहुल न्यूयाॅर्क (अमेरिका) में रहता हूँ, लेकिन अभी विभाग के कार्य से सीरिया में हूँ।

जीवनसाथी डाॅट काॅम पर आपका वैवाहिक विज्ञापन देखा, आपके एक बेटी तथा मेरे भी एक बेटा है। यहीं से वादिया की मोबाइल पर उक्त राहुल से वाट्सअप से बातचीत होने लगी, उसी बीच राहुल ने वादिया से कुछ जरुरी काम के लिए 1,50,000/- रुपया की मांग की तथा कहा कि मैं दो-चार दिन में वापस कर दूंगा तो वादिया ने 1,50,000/- रुपया दिनांक 01.06.2020 को राहुल के बताये गये खाते में ट्रांसफर कर दिये, उसके बाद राहुल से बातचीत होती रही। इसी बातचीत मे राहुल ने वादिया से कहा कि तुम्हारे लिए एक गिफ्ट पैकेज भेज रहा हूँ जिसमें ज्वैलरी व डालर है जिसकी कीमत लगभग 80 लाख रुपया है जिसका पार्सल दिनांक 10.06.2020 को कर दिया है।

दो दिन बाद एक फोन आया और उसने खुद को अम्बर कस्ट्मस कोरियर से बताया तथा बताया कि अपनी मेल पर देखें कि आपके नाम से सीरिया से एक पार्सल मिस्टर राहुल शर्मा के नाम से भेजा गया है, जिसका प्रोसेसिंग चार्ज आपको देना होगा तो वादिया ने अपना ईमेल देखा उसमें प्रोसेसिंग चार्ज के लिये लिखा था। वादिया ने उसी प्रक्रिया के तहत कई बार रुपए अलग-अलग खातों में ट्रांसफर कर दिये। उसके बाद पुनः राहुल से बात हुयी तो उसने कहा यह कस्टम वाला काम कर दो बाद में काफी पैसा आपके पास आ जायेगा तो वादिया ने उसकी बातो में आकर पुनः कई बार अलग-अलग खातों में अब तक करीब 24 लाख रुपए ट्रांसफर करा दिये।

बाद में वादिया को अहसास हुआ कि उसके साथ राहुल शर्मा ने धोखाधड़ी व जालसाजी से विभिन्न बैंक खातों में पैसे डलवाकर ऑनलाइन ठगी की है इस सूचना पर थाना कोतवाली नगर पर मुoअoसं- 550/20 धारा 420 भादवि व 66C, 66D सूचना प्रौद्योगिकी अधिनियम पंजीकृत किया गया।

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक एटा द्वारा उक्त घटना को गंभीरता से लेते हुए घटना से संबंधित अभियुक्तों की शीघ्र गिरफ्तारी हेतु प्रभारी निरीक्षक थाना कोतवाली नगर को प्रभारी सर्विलांस सेल मोहित राणा के साथ निर्देशित किया गया। दिनांक 11.09.2020 को थाना कोतवाली नगर पुलिस द्वारा इलेक्ट्रॉनिक सर्विलांस की मदद से उक्त घटना को अंजाम देने वाले छह अभियुक्तों को रोडवेज बस स्टैंड एटा के पास से समय करीब 11 बजे गिरफ्तार किया गया है। जामा तलाशी में अभियुक्तों के कब्जे से ₹101000, विभिन्न बैंकों के 66 एटीएम, 32 पासबुक, 32 चेक बुक, एक रैपिडेक्स किताब, तीन कॉपी, 3 एंड्राइड फोन, एक कीपैड फोन बरामद किया गया। पूछताछ पर अभियुक्तों ने बताया कि उनका एक सक्रिय गिरोह है तथा वो इंटरनेट के माध्यम से विभिन्न प्रकार के लोगों से धोखाधड़ी कर फर्जी नामों से बैंकों में कूट रचित दस्तावेज तैयार कर खाते खुलवा कर रुपया डलवाते हैं।

यही उनकी जीविका का साधन है जिसमें और भी सदस्य जुड़े हुए हैं। इसी तरह से लोगों से ऑनलाइन ठगी करते हैं तथा जनपद एटा की युवती के साथ भी उन लोगों ने ही मिलकर ऑनलाइन ठगी की थी। इस संबंध में मुकदमा उपरोक्त में *धारा 467, 468, 474, 34, 411 भा.द.वि* की बढ़ोतरी कर गिरफ्तार अभियुक्तों के विरुद्ध थानास्तर से आवश्यक वैधानिक कार्यवाही की जा रही है। अभियुक्त जितेंद्र के नाम से जनपद बरेली में एक बैंक अकाउंट में करीब साढ़े पांच लाख रुपए जमा हैं, उक्त खाते को फ्रीज कराकर आवश्यक कार्यवाही की जा रही है। साथ ही घटना में प्रयुक्त हुए अन्य सभी बैंक खातों के संबंध में भी वैधानिक कार्यवाही प्रचलित है।

गिरफ्तार अभियुक्तों का नाम पता-

1- जितेंद्र पुत्र जीवराम ग्राम निवासी नगला बदन थाना सुन्नगढ़ी जनपद कासगंज।
2- राजकमल पुत्र नन्हे उर्फ राजेश जोगी निवासी बाज नगर थाना सहावर जनपद कासगंज।
3- समीलुद्दीन पुत्र जमीलुद्दीन निवासी चौक पीर बहोडा थाना इज्जत नगर जनपद बरेली।
4- अजहरुद्दीन पुत्र सईदउद्दीन निवासी उपरोक्त।
5- वाजिद पुत्र मौसम खान निवासी परतापुर थाना इज्जत नगर जनपद बरेली।
6- राशिद पुत्र नूर मोहम्मद निवासी उपरोक्त।

माल बरामदगी-

1- 101000 रुपए
2- विभिन्न बैंकों के 66 एटीएम
3- 32 पासबुक
4- 32 चेक बुक
5- एक रैपिडेक्स किताब व तीन कॉपी
6- 3 एंड्राइड व एक कीपैड फोन

गिरफ्तार करने वाला पुलिस बल-

1- प्रभारी निरीक्षक अशोक कुमार सिंह
1- प्रभारी उ.नि.सर्विलांस सेल मोहित राणा
2- उप निरीक्षक रामवीर सिंह।
3- आरक्षी मनीष कुमार।
4- आरक्षी पवन कुमार।
5- आरक्षी मनीष कुमार।
6- आरक्षी चंद्रमुनि।
7- होoगार्ड जरजोधन सिंह।


Leave a Reply

Your email address will not be published.