सीएम गेहलोत ने छोड़ी अपनी फ्लोर टेस्ट की जिद्द, गवर्नर को भेजे प्रस्ताव में नहीं किया जिक्र


जयपुर। राजस्थान में चल रहे सियासी संकट में रोज नए-नए मोड़ आते दिख रहे हैं। ताजा प्रकरण यह है कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने एक बार फिर राज्यपाल कलराज मिश्रा \ को विधानसभा सत्र बुलाने को लेकर प्रस्ताव भेजा है। सीएम गहलोत ने अपने प्रस्ताव में राज्यपाल से मांग की है कि 31 जुलाई से विधानसभा का सत्र बुलाया जाए।

आपको बता दें की प्रदेश सरकार ने कल देर रात यह प्रस्ताव गवर्नर को भेजा है। इसके साथ ही सरकार ने राज्यपाल को 6 बिंदुओं का जवाब भी भेज दिया है। सरकार ने कल ही कैबिनेट से विधानसभा का सत्र बुलाने का प्रस्ताव पारित कराया था। हालांकि बताया गया है कि राज्यपाल कलराज मिश्रा ने सत्र बुलाने को लेकर अभी कोई फैसला नहीं किया है।

सीएम गहलोत द्वारा राज्यपाल को भेजे गए प्रस्ताव में 31 जुलाई से विधानसभा का सत्र बुलाने की तो मांग की गई है, लेकिन इसमें फ्लोर टेस्ट कराने को लेकर कोई बात नहीं कही गई है। विधानसभा सत्र बुलाने के पीछे की वजह दरअसल, कोरोना वायरस संक्रमण को बताया गया है. लेकिन इसमें फ्लोर टेस्ट को लेकर गहलोत ने कोई जवाब नहीं दिया है।


Leave a Reply

Your email address will not be published.