मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन का नेतरहाट में जनता दरबार, ग्रामीणों की सुनी समस्याएं और समाधान का दिया भरोसा


झारखंड: झारखंड में प्राकृतिक सौंदर्य से लबरेज एक से बढ़कर पर्यटक स्थल हैं। इन पर्यटक स्थलों को वर्ल्ड क्लास बनाने का प्रयास हो रहा है। इस सिलसिले में यहां रहने, खाने- पीने, आवागमन और सुरक्षा जैसी बुनियादी सुविधाओं को बेहतर किया जा रहा है। मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन ने आज नेतरहाट स्थित डाक बंगला में आयोजित जनता दरबार मे ग्रामीणों को संबोधित किया।

मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारे राज्य से हर साल बडी संख्या में लोग दूसरे प्रदेशों और विदेश घूमने जाते हैं, लेकिन हमारा प्रयास है कि पहाड़ो की रानी नेतरहाट जैसे तमाम पर्यटक स्थलों को इस तरह विकसित करें कि बाहर से सैलानी इन पर्यटक स्थलों की खूबसूरती को निहारने के लिए बरबस खींचे चले आएं।

आपने दी है बड़ी जिम्मेदारी

मुख्यमंत्री ने ग्रामीणों से कहा कि आपने मुझे बड़ी जिम्मेदारी दी है। आपकी समस्याओं और परेशानियों का समाधान करना मेरी प्राथमिकता है। अगर आपको कोई दिक्कत हो तो बेहिचक और निर्भीक होकर बताएं, उसे दूर किया जाएगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि जनता दरबार के माध्यम से मुझे आपसे सीधे जुड़ने का मौका मिलता है। इससे पूरी वस्तुस्थिति की जानकारी होती है और उसका समाधान और भी आसान हो जाता है ।

कोरोना काल मे जिंदगी को सामान्य करने का हो रहा प्रयास

मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना महामारी ने पूरी दुनिया की व्यवस्थाओं को तबाह किया है। झारखंड भी इस महामारी से जूझ रहा है। लेकिन, इस दौरान आपने जो संयम, धैर्य और भाईचारा का परिचय दिया है, उससे यहां कोई अफरा-तफरी नही देखने को मिली। मुख्यमंत्री ने कहा कि लॉक डाउन के दौरान थानों में सामुदायिक किचन और पंचायतों में सखी दीदियों ने लाखों गरीबों और ज़रूरतमंदों को भोजन कराया। राज्य की जनता और प्रशासन से मिले सहयोग से हम जिंदगी को सामान्य बनाने में जुट गए हैं। बहुत जल्द इसकी गति तेज हो जाएगी।

इस मौके पर मनिका के विधायक और जिला प्रशासन के अधिकारियों के अलावा बड़ी संख्या में ग्रामीण उपस्थित थे।


Leave a Reply

Your email address will not be published.