मेरठ: थानाध्यक्ष ने सर्राफा व्यवसायियों को कहा सट्टा कारोबारी, सर्राफा बाजार एसोसिएशन ने वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक से की शिकायत


मेरठ। मनीष पराशर: थाना पुलिस सट्टा कारोबारियों पर कार्यवाही ना करके उल्टा प्रतिष्ठित सर्राफा कारोबारियों को ही सट्टा कारोबारी कह रही है जिसके बाद आज सर्राफा कारोबारियों में थानाध्यक्ष के खिलाफ विरोध के स्वर उत्पन्न हो गए और उन्होंने इसकी शिकायत मेरठ के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अजय सहानी से मिलकर की।

बता दें मेरठ के सर्राफा बाजार एसोसिएशन में देहलीगेट थाना अध्यक्ष ने एक व्हाट्सएप मैसेज किया जिसमें उन्होंने सर्राफा कारोबारियों को जीएसटी चोर और सट्टा कारोबारी बताया जिसके बाद तमाम व्यापारी नाराज हो गए और उन्होंने इसकी शिकायत मेरठ के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अजय साहनी से कर डाली जिसके तुरंत बाद ही कप्तान ने देहलीगेट थाना इंचार्ज राजेंद्र त्यागी को तलब कर लिया और उनसे सवाल-जवाब किए गए। सर्राफा व्यवसाई इस बात से इतने नाराज दिखे उनका कहना था कि पुलिस सही सट्टा कारोबारियों पर तो कार्यवाही कर नहीं रही है उल्टा प्रतिष्ठित सर्राफा व्यवसायियों को ही सट्टा कारोबारी बता रही है जबकि देहली गेट थाने के अंतर्गत काफी काले धंधे होते हैं उन पर पुलिस रोक लगाने में नाकाम साबित हो रही है। सर्राफा व्यवसायियों ने कहा अगर इसी तरीके से थाना पुलिस सर्राफा व्यवसायियों का उत्पीड़न करेगी या उन पर उल्टे सीधे आरोप लगाएगी तो बिल्कुल भी बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

मेरठ के वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों से मेरठ बुलियन ट्रेडर्स एसोसिएशन के पदाधिकारियों ने पुलिस से सर्राफा व्यवसायियों की सुरक्षा के लिए एक प्रार्थना पत्र दिया था जिसके बाद बाजार में कैमरे लगाने के आदेश दिए गए लेकिन पूरे बाजार में अभी तक भी सर्राफा व्यवसायियों ने कैमरे नहीं लगाए जिसके बाद थानाध्यक्ष लगातार व्यापारियों से कैमरा लगाने के लिए कहते रहे उसी से नाराज थानाध्यक्ष ने व्हाट्सएप पर एक मैसेज जारी कर दिया जिसमें उन्होंने सर्राफा व्यवसायियों को जीएसटी चोर और सट्टा कारोबारी बता दिया जिसके विरोध में आज मेरठ बुलियन ट्रेडर्स एसोसिएशन के पदाधिकारी वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक से मिले जिसके बाद कप्तान ने व्यापारियों को थानाध्यक्ष पर कार्यवाही करने का आश्वासन दिया है।

थानाध्यक्ष के खिलाफ कप्तान से मिलने वाले पदाधिकारियों में मेरठ बुलियन ट्रेडर्स एसोसिएशन के महामंत्री विजय आनंद,अध्यक्ष प्रदीप अग्रवाल, मनोज गुप्ता, राज किशोर रस्तोगी,आकाश मांगलिक एवं अन्य पदाधिकारी मौजूद रहे।


Leave a Reply

Your email address will not be published.