रामलला के मंदिर की भव्यता और मजबूती के लिए शुरू हुआ 5 दिवसीय अनुष्ठान


अयोध्या राम नगरी में रामलला के मंदिर की भव्यता और मजबूती के लिए पांच दिवसीय अनुष्ठान की शुरुआत की जा रही है। इसमें देव शिल्पी विश्वकर्मा का आवाहन किया जा रहा है। अनुष्ठान करता रामादल ट्रस्ट के अध्यक्ष पंडित कल्किराम का कहना है कि भगवान राम के जन्म स्थान पर बनने वाले राम मंदिर के 10 हजार वर्षों तक टिकने की कामना की जा रही है। भगवान राम के जन्म स्थान पर रामलला का मंदिर 1000 वर्षों तक टिकने वाला होगा। ऐसा इसलिए कहा जा रहा है कि राम मंदिर में प्रयुक्त होने वाले पत्थर 1000 वर्ष तक खराब नहीं होंगे। वही राम मंदिर ट्रस्ट के अध्यक्ष पंडित कल्किराम का कहना है कि पूर्व में बनाए गए मंदिर एक युग तक अडिग रहे. यह मंदिर देव शिल्पी विश्वकर्मा के द्वारा बनाए जाते थे. भगवान राम का मंदिर भी कम से कम एक युग तक टिके ऐसी कामना की जा रही है. इसके लिए रामादल ट्रस्ट की ओर से अनुष्ठान किया जा रहा है यह अनुष्ठान 5 दिन तक चलेगा। रामादल ट्रस्ट की ओर से रामलला को नवीन वस्त्र भेंट करने के साथ ही इस अनुष्ठान की शुरुआत हो गई है.

ट्रस्ट के अध्यक्ष पंडित कल्किराम ने का कहना है कि इस अनुष्ठान के जरिए देव शिल्पी विश्वकर्मा का आह्वान किया जा रहा है. कामना की जा रही है कि राम मंदिर निर्माण में लगे सभी लोगों को देव शिल्पी विश्वकर्मा ऐसी सामर्थ्य दें कि 10 हजार वर्षों तक टिकने वाले राम मंदिर का निर्माण संभव हो सके।


Leave a Reply

Your email address will not be published.