मेरठ: अवैध शराब से हुई मौतों के मामले में सपा ने की महापंचायत


मेरठ। मनीश पराशर: अवैध शराब से ग्रामीणों की मौत के मामले में मीरपुर जखेड़ा मे सपा की महापंचायत हुई। मंगलवार शाम रणनीति और तैयारियों को अंतिम रूप दिया गया। सपा जिलाध्यक्ष राजपाल सिंह ने कहा कि सपा पीड़ितों को न्याय दिलाएगी। दूसरी ओर महापंचायत के दौरान भारी-भरकम पुलिसबल की तैनाती की जाएगी। सपा जिलाध्यक्ष ने  बताया कि 12 बजे महापंचायत शुरू हुई। इसमें हजारों लोग शामिल हुए। ये लोग अवैध शराब से मृतकों के स्वजनों की आवाज बनें। पुलिस प्रशासन कोरोना महामारी का हवाला देकर और भाजपा नेताओं के दबाव में महापंचायत रोकने का प्रयास कर रहा था। लेकिन सपा का हर कार्यकर्ता सरकार व पुलिस प्रशासन की नाकामी उजागर करता रहेगा । उधर,सीओ सरधना संजीव दीक्षित ने बताया कि महापंचायत में पर्याप्त पुलिस फोर्स तैनात रहा।

मामला मीरपुर जाखेड़ा गांव का है जहां पर जहरीली शराब पीने से 3 युवकों की मौत हो गई थी जिसके बाद सपा ने परिवार से मिलकर 16 तारीख को महापंचायत का ऐलान कर दिया था जिसके बाद मेरठ जिले से सैकड़ों की संख्या में सपा कार्यकर्ता और पदाधिकारी मीरपुर जखेड़ गांव पहुंचे और प्रदेश सरकार और जिले के पुलिस प्रशासन और आबकारी विभाग के खिलाफ एक महापंचायत आयोजित की जिसमें सपा लगातार प्रदेश सरकार पर निशाना साधते नजर आई और प्रदेश सरकार की नाकामी भी सपा के नेता अतुल प्रधान ने उजागर की अतुल प्रधान का कहना था कोरोना काल में जिस तरह से शराब के ठेके खुले रहे।

अवैध शराब बिकती रही उत्तर प्रदेश सरकार ने रोक नहीं लगाई प्रदेश सरकार और जिला पुलिस प्रशासन और प्रशासन के नाक के नीचे जहरीली शराब का धंधा पनप रहा है जिस को रोकने में जिला प्रशासन से लेकर जिले का तमाम पुलिस प्रशासन और थाना पुलिस और आबकारी विभाग नाकाम साबित हो रहा है लगातार जहरीली शराब पीने से नौजवानों की मौत हो रही है इसीलिए प्रदेश सरकार की नाकामी और जिला प्रशासन की नाक के नीचे हो रहे जहरीले शराब के धंधे को लेकर यहां पर एक महापंचायत करके सपा ने परिवार के लोगों को आर्थिक मदद और जल्द ही ऐसे कारोबार करने वालों पर सख्त कानूनी कार्यवाही करने की बात कही है।

पीड़ित स्वजनों से भी महापंचायत में आने का अनुरोध किया डूंगर और मीरपुर जखेड़ा में अवैध शराब से मौत होने पर पीड़ित परिवारों को न्याय दिलाने के लिए सपा ने महापंचायत की है। सपा कार्यकर्ता पथोली, जिंजोखर एवं अरनावली गांव में भी गए और ग्रामीणों से भारी संख्या में पंचायत में पहुंचने का आश्वासन दिया। उनके साथ मुनकाद अली, संजीव यादव, शेरा जाट, युसूफ सैफी, प्रदीप गुर्जर, जितेंद्र गुर्जर, ठाकुर भोज प्रताप सिंह, सोनू, बॉबी सेन, सौरव यादव थे। बता दें कि कुछ समय पहले डूंगर गांव में जहरीली शराब पीने से तेजवीर सिंह, सुधीर एवं जोगिदर की मौत हो गई थी। 

सपा द्वारा आयोजित महापंचायत ने पहले से ही पुलिस प्रशासन ने पुख्ता इंतजाम किए हुए थे सीओ सरधना और एसडीएम सरधना मौके पर ही मौजूद थे कई थानों की फोर्स को भी मीरपुर जाखेड़ा गांव में लगाया गया था पुलिस ने सपा के कार्यकर्ताओं के नेताओं से महापंचायत ना करने का अनुरोध भी किया पुलिस का कहना था कि कोरोना काल चल रहा है इस कारण महापंचायत ना की जाए लेकिन सपा कार्यकर्ताओं ने जिले में धारा 144 का भी उल्लंघन किया कोरोना काल के चलते जिले में धारा 144  लागू है उसके बावजूद सपा ने महापंचायत का आयोजन किया महापंचायत में कांग्रेस के जिला अध्यक्ष अवनीश काजला भी सैकड़ों कार्यकर्ताओं के साथ पहुंचे।


Leave a Reply

Your email address will not be published.