मध्य प्रदेश: सीएम शिवराज ने पीएम मोदी को बताया किसानों का भगवान, कहा- विपक्षी दल अन्नदाताओं के शुभचिंतक नहीं, बल्कि किसानद्रोही हैं


मध्य प्रदेश। एमपी के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को “किसानों का भगवान’’ बताया और कहा कि संसद से पारित कृषि सुधार संबंधी विधेयकों से अन्नदाताओं की आय दोगुनी होगी।  चौहान ने इन विधेयकों के विरोध में उतरे विपक्षी दलों को “किसानद्रोही” करार दिया और आरोप लगाया कि वे बिचौलियों की पैरवी कर रहे हैं। 

मध्य प्रदेश सीएम ने कल रात इंदौर में संवाददाताओं से कहा, “दूरदृष्टि से फैसले करने वाले प्रधानमंत्री किसानों के भगवान हैं। कृषि सुधारों से संबंधित तीनों विधेयक किसानों के लिए वरदान हैं जिनसे किसानों की आय दोगुनी होगी।” अपनी बात को आगे बढ़ाते हुए चौहान ने कहा, “इन विधेयकों का विरोध कर रहे विपक्षी दल अन्नदाताओं के शुभचिंतक नहीं, बल्कि किसानद्रोही हैं। वे किसानों को भ्रमित करने का प्रयास कर रहे हैं। लेकिन उनकी ये कोशिशें सफल नहीं होने दी जाएंगी। अगर कोई निर्यातक अच्छे दाम देकर सीधे किसानों से गेहूं और धान खरीदता है, तो किसी बिचौलिये की जरूरत क्या है? विपक्षी दल बिचौलियों का समर्थन क्यों कर रहे हैं।” 

उन्होंने यह भी कहा कि विपक्षी दल कृषि विधेयकों को लेकर प्रधानमंत्री का नहीं, बल्कि किसानों के हितों का “अंधविरोध” कर रहे हैं। 

आपको बता दें की एएनआई से बात करते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कांग्रेस पर निशाना साधा और कहा, “नरेंद्र मोदी जी ने एक दीर्घकालीन रणनीति बनाई ताकि किसानों की आय दोगुनी हो सके। इसीलिए 3 बिल आए। किसान अपनी उपज को कहीं भी बेच सकता है। कांग्रेस को क्या आपत्ति है। घर पर ही सही दाम मिले और किसान अपनी फसल बेचता है, तो कांग्रेस को क्या आपत्ति है।” 

चौहान ने आगे कहा, “परन्तु झूठ बोलना और भ्रम फैलाना कांग्रेस की फितरत है, मोदी जी का नाम सुनकर तो सपने में भी चौंक जाते हैं और उठकर विरोध करने लगते हैं। ये केवल मोदी जी का विरोध नहीं किसानों का विरोध है और किसान इसे सहन नहीं करेगा। ये तीनों बिल किसान के हित में हैं।” 


Leave a Reply

Your email address will not be published.