सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए श्रद्धालुओं ने किया पूजा पाठ


पटना। जगदीप कुमार । खगड़िया में दुर्गा मंदिर में पसरा रहा सन्नाटा।नही बजी भक्ति गाना, जिसे लेकर पंडित ने बताया इस वर्ष जिला प्रशासन की ओर से किसी तरह नही लगाया गया मेला, न ही तोरण द्वार, न ही पंडाल, इस वर्ष की मेला काफी सुना सा लग रहा है। क्योंकि कोरोना वायरस को लेकर जिला प्रशासन के निर्देश का पालन किया गया। जिसके कारण श्रद्धालु भी घर मे ही पूजा अर्चना कर रहे हैं। इस वर्ष उद्घोषणा का भी आयोजन को स्थगित कर दिया गया। जिसमें जिले के विभिन्न प्रखंड क्षेत्रों की शहरी एवं ग्रामीण इलाकों में दुर्गा पूजा मनाई जा रही है। मुख्य बाजार के सन्हौली दुर्गा मंदिर, हार्दशचक मंदिर, स्टेशन परिसर मंदिर, दान टोल मंदिर, काली बारी मंदिर आदि सार्वजनिक माँ दुर्गा मंदिर परिसर में शनिवार को दुर्गा अष्टमी के शुभ अवसर पर श्रद्धालुओं ने पूजा अर्चना किया।

जबकि वहीं इस बार कोरोना महामारी होने के कारण श्रद्धालुओं की भीड़ नहीं देखने को मिली। जिसमें कुछ श्रद्धालु मंदिर परिसर में नजर आए एवं पूजा के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते नजर आए।

इस बार कोरोना संक्रमण की बढ़ते प्रकोप को देखते हुए मेले का आयोजन नहीं किया गया है। जिसमे खास कर बच्चों में नारारजगी थी।कई बच्चे की ख्वाहिश रहती है मेला में झूला झूलना, खिलौने एवं होटल का स्वादिष्ट भोजन करना उनका मुख्य उदेश्य रहता है।लेकिन इस वर्ष कोरोना वायरस से बचाव हेतु पुख्ता इंतजाम किया गया है।

दुर्गा पूजा को लेकर कई जगह जागरण का कार्यक्रम हुआ करता था लेकिन इस बार कोरोना काल मे हो रहे दुर्गा पूजा में कार्यक्रम नहीं कर पाये जिसके कारण कलाकार की आर्थिक स्थिति डगमगा सी गई है।


Leave a Reply

Your email address will not be published.