अयोध्या: संतो ने श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र के महासचिव पद से चंपत राय को हटाने की करी मांग, यह है पूरा मामला


अयोध्या। मयंक श्रीवास्तव: महाराष्ट्र के पालघर में 5 महीने पूर्व हुई संतों की मॉब लिंचिंग को लेकर अयोध्या में महाराष्ट्र सरकार के विरुद्ध आक्रोश है। सीएम उद्धव ठाकरे के विरोध की बात संतों के कहने पर चंपत राय के विवादित बयान को लेकर राम नगरी में विरोध तेज हो गया है। चंपत राय को संतो ने श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र के महासचिव पद से हटाने की मांग कर रहे हैं।

राम नगरी के में संतों ने प्रमुख धार्मिक स्थल हनुमानगढ़ी में चंपत राय के लिए बुद्धि शुद्धि यज्ञ आयोजित किया। श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय ने उद्धव ठाकरे की अयोध्या आगमन को लेकर संतों पर अमर्यादित भाषा का प्रयोग किया था।

उन्होंने कहा था कि अयोध्या में कोई ऐसा पैदा ही नहीं हुआ है जो महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे को यहां आने से रोक सके। इस बयान को लेकर अयोध्या के संत आक्रोशित हैं। हनुमानगढ़ी, निर्वनी अनी अखाड़ा समेत सभी प्रमुख मंदिरों के महंत और संत चंपत राय के इस बयान पर कड़ी प्रतिक्रिया दी है।

अब श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय के लिए अयोध्या हनुमानगढ़ी में बुद्धि शुद्धि यज्ञ का आयोजन किया गया। महंत राजू दास ने कहा कि महाराष्ट्र पालघर में संतों की हत्या हुई थी जिसमें सीबीआई जांच की मांग को लेकर संतो के द्वारा प्रदर्शन किया गया। इसी को लेकर उन्होंने कहा उद्धव ठाकरे के अयोध्या मैं आगमन को लेकर विरोध करेंगे परंतु इसके बाद चंपतराय का दुर्भाग्यपूर्ण बयान आया। जिसको लेकर उनकी बुद्धि शुद्धि यज्ञ का आयोजन किया गया।


Leave a Reply

Your email address will not be published.