मिशन कंपाउंड कुलपहाड़ के एक वृद्ध कर्मचारी को मैनेजर ने किया बेघर, कर्मचारी ने लगाए धर्मपरिवर्तन जैसे संगीन आरोप


कुलपहाड़ महोबा। मामला महोबा जनपद के कुलपहाड़ थाना क्षेत्र का है,जहां पर क्रिश्चियन स्कूल में एक वृद्ध ने वहां के मैनेजर के ऊपर संगीन आरोप लगाते हुए कोतवाली में तहरीर दी है, तहरीर में बताया है कि प्रार्थी इमानुअल बैरो निवासी मिशन कंपाउंड कुलपहाड़ के निवासी हैं, उनका कहना है कि मैंने जब से मिशन कंपाउंड में नौकरी की है तब से मिशनरियों द्वारा मानसिक व शारिरिक रूप से मेरा शोषण हो रहा है।मुझे मिशन में सेवा देते हुए 50 साल हो गए हैं।मिशन आंटिलिया मोसिया जिनका देहांत कुछ वर्ष पहले हो गया था,उन्होंने ही मुझे मेरी पत्नी को इस मिशन कंपाउंड में पाला था,व मुझे नौकरी दी थी और कहा था आजीविका तक आप लोग इस मिशन कंपाउंड में रहेंगे।सेवा दे कर मेरा सारा जीवन यहीं बीत गया बाहर नौकरी करने की जब मेरी उम्र थी तब मिशन से बाहर जाने नहीं दिया, न कहीं रहने के लिए आशियाना बना पाया न बच्चों के लिए कुछ कर पाया,आज जब हम दोनों बूढे हो गए तो कंपाउंड का मैनेजर बाहर निकलने को कह रहा है।मिशन कंपाउंड कर्मचारी ने बताया है कि मैनेजर उसकी लड़कियों को इस बात के बाध्य करता है कि बाहर के लोगों का धर्मपरिवर्तन करवाओ, हिन्दू लड़कों को फ़ांस कर ईसाई बनाओ।
वही पीड़ित कर्मचारी ने मैनेजर पर आरोप हुए कहा है कि कंपाउंड का मैनेजर मुझसे कहता है कि अपनी बच्चियों को मेरे कमरे में भेजोगे तो नौकरी से नहीं निकालूँगा।


Leave a Reply

Your email address will not be published.