अयोध्या: शोध संस्थान में पर्यटन की दृष्टि से उपलब्ध होंगी अत्याधुनिक सुविधाएं, अस्थाई रूप से संस्थान का कार्यालय हुआ शिफ्ट


अयोध्या। मयंक श्रीवास्तव: रामनगरी अयोध्या में केंद्र सरकार के कला एवं संस्कृति विभाग द्वारा संचालित अयोध्या शोध संस्थान में पर्यटन की दृष्टि से अत्याधुनिक सुविधाएं उपलब्ध होंगी। शासन से संस्थान के कार्यालय का कायाकल्प करने के लिए धनराशि जारी होने के बाद इसे अत्याधुनिक बनाने का कार्य शुरू हो गया है। शोध संस्थान में निर्माण कार्य होने के कारण अस्थाई रूप से शोध संस्थान का कार्यालय दूसरे स्थान पर शिफ्ट किया गया है।

भगवान राम के विभिन्न स्वरूपों और रामायण से जुड़े तथ्यों पर शोध करने के लिए केंद्र सरकार की ओर से जिले में का संस्कृत विभाग स्थापित किया गया है। यह विभाग अयोध्या में पर्यटन की दृष्टि से प्रमाणिक सूचना पर्यटकों को उपलब्ध कराने की अहम कड़ी है। विभाग में शूट के लिए उपयुक्त वातावरण बनाने और पर्यटकों के लिए ऐतिहासिक धरोहरों से जुड़ी जानकारी आसानी से प्राप्त हो सके। इसके लिए विभाग के कार्यालय को नया रूप दिया जा रहा है।

अयोध्या शोध संस्थान के प्रशासनिक अधिकारी राम तीरथ यादव ने बताया कि संस्थान के कार्यालय तुलसी स्मारक भवन को अत्याधुनिक बनाने के लिए शासन से धनराशि प्राप्त हो गई है। काम प्रभावित न हो इसके लिए रामकथा संग्रहालय में अस्थाई रूप से शोध संस्थान का कार्यालय स्थापित किया गया है। निर्माण कार्य के दौरान संस्थान के सभी कार्य यहीं से संपादित किए जाएंगे।


Leave a Reply

Your email address will not be published.