शराब तस्करी का नया तरीका पशु आहार के कंटेनर में छुपा कर लायी जा रही थी शराब


मैरवा (सींवान) | बिहार में शराब बंदी होने के बावजूद शराब तस्करी का कारोबार थमने का नाम नही ले रहा है। आये दिन शराब तस्कर शराब तस्करी के कार्यो को बहुत ही बारीकी से अंजाम देने में लगे हुए हैं।तस्कर पुलिस प्रशासन से वेख़ौफ़ होकर सीमावर्ती क्षेत्र से लाखो करोड़ो की शराब को बड़ी बड़ी वाहनो के द्वारा सीमावर्ती क्षेत्र स्थित सीमा पार करा रहे है। जो बिहार के विभिन्न इलाको व क्षेत्रों में बेचने का कार्य किया जा रहा है। हालाँकि प्रशासन भी इन शराब तस्करो पर पैनी नजर बनाए हुए हैं। इसी क्रम में मैरवा पुलिस को बड़ी कामयाबी हासिल हुई है। मैरवा पुलिस ने एक कंटेनर में भरी लाखों की शराब को बरामद किया है। तथा दो तस्करो को भी गिरफ्तार किया है। दोनों शराब तस्कर सीमावर्ती क्षेत्र यूपी से बिहार शराब लेकर आ रहे थे, की मैरवा पुलिस कंटेनर में लदे शराब को जप्त कर लिया और दो शराब तस्करो भी गिरफ्तार कर लिया। मैरवा पुलिस को सीमावर्ती क्षेत्र से पूर्व में ही शराब की बड़ी खेप बिहार में आने की सूचना मिल चुकी थी। जिसके पश्चात थानां क्षेत्र के धरनी छापर चेक पोस्ट के समीप मैरवा पुलिस दल बल के साथ सघन जाँच करना प्रारम्भ कर दिया। जिसके फलस्वरूप बड़ी खेप पकड़ी गयी। जिसकी कीमत 15 लाख रुपये की बतायी जा रही है और तो और ये विदेशी शराब की खेप पशु आहार चोकर से भरी बोरियों में छिपाकर ले जा रहे थे।


Leave a Reply

Your email address will not be published.