वाल्मीकि नगर वन क्षेत्र से सटे रिहायशी क्षेत्रों में वन्यजीवों का आतंक


पटना: वाल्मीकि व्याघ्र परियोजना के अंतर्गत वन प्रमंडल दो के वाल्मीकि नगर वन क्षेत्र से सटे रिहायशी क्षेत्रों में वन्यजीवों का आतंक इन दिनों थमने का नाम नहीं ले रहा है। इसी क्रम में आज बुधवार की सुबह 8 बजे संतपुर गांव के नजदीक दोन सेवा पथ के किनारे अपने खेत में कार्य कर रहे किसान रूपनारायण महतो, उम्र लगभग 52 वर्ष और उसकी पत्नी मीना देवी, उम्र लगभग 50 वर्ष पर वन क्षेत्र से निकलकर एक जंगली भालू ने अचानक हमला बोल दिया। जिसमें दोनों पति पत्नी बुरी तरह जख्मी हो गए।

उनके चिल्लाने पर अगल बगल के खेतों में काम कर रहे किसान शोर मचाने लगे। तब भालू जंगल की तरफ भाग खड़ा हुआ। तब तक दोनो पति पत्नी बुरी तरह जख्मी हो चुके थे। आनन-फानन में परिजनों और ग्रामीणों के द्वारा उन्हें वाल्मीकि नगर स्थित अतिरिक्त प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र ले जाया गया।

मौके पर मौजूद डॉक्टर सुमित कुमार के द्वारा प्राथमिक उपचार के उपरांत उनकी गंभीर स्थिति को देखते हुए बेहतर इलाज के लिए बेतिया जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया। इस बाबत पूछे जाने पर वाल्मीकि नगर वन क्षेत्र पदाधिकारी महेश प्रसाद ने बताया कि ऐसी सूचना मिली है, मामले की जांच की जा रही है। साक्ष्य के साथ आवेदन करने पर आगे की कार्रवाई की जाएगी।

रिपोर्ट: विजय कुमार शर्मा


Leave a Reply

Your email address will not be published.