लखीमपुर खीरी: 13 वर्षीय बच्ची के साथ बलात्कार के बाद उसकी हत्या का मामला, दो गिरफ्तार


लखीमपुर खीरी। उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी जिले में 13 वर्षीय बच्ची के साथ बलात्कार के बाद उसकी हत्या कर दी गई है।पीड़िता के शव को गन्ने के खेत से बरामद किया गया। मासूम बच्ची के साथ बर्बरता करने वाले दो आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार लिया है। पोस्टमार्ट रिपोर्ट में मासूम के साथ दुष्कर्म की पुष्टि हुई है। पुलिस आरोपियों से पूछताछ में जुटी है।

शव मिलने से फैली सनसनी –

शुक्रवार को लखीमपुर खीरी के थाना ईसानगर क्षेत्र अंतर्गत गन्ने के खेत में 12 साल की बच्ची का शव मिलने से सनसनी फैल गई थी। गले में दुपट्टा कसा था तो पैर बंधे थे। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया था। थाना ईसानगर क्षेत्र के एक ग्रामीण की 12 वर्षीय पुत्री शुक्रवार को दोपहर दो बजे खेतों की ओर गई थी, लेकिन वह शाम तक घर नहीं लौटी। यह मामला नेपाल सीमा से सटे एक गांव की है जो लखनऊ से करीब 130 किलोमीटर दूर है।

बच्ची के घर वापस न आने पर परिवार के लोग परेशान होने लगे और उसकी तलाश की। गांव में काफी तलाश करने के बाद जब बच्ची का कोई पता नहीं चला तो परिवार वालों ने गांव वालों के साथ मिलकर खेतों में खोज शुरू की। खोजबीन में घर से करीब डेढ़ सौ मीटर दूर स्थित झन्नू यादव के खेत में बालिका का शव मिला था।

रासुका और NSA के तहत कार्यवाही –

लखीमपुर खीरी के एसपी सत्येंद्र कुमार ने कहा कि 13 वर्षीय लड़की (जिसकी लाश ईसानगर के एक खेत में मिली थी) की पोस्टमार्टम रिपोर्ट, बलात्कार की पुष्टि करती है। उन्होंने कहा कि दोनों आरोपियों को पहले ही गिरफ्तार कर लिया गया था। हम बलात्कार, हत्या और राष्ट्रीय सुरक्षा कानून के तहत आरोप दायर करेंगे।”

गांव के दो युवक गिरफ्तार –

परिजनों ने गांव के ही रहने वाले संतोष यादव और संजय गौतम पर बच्ची के साथ रेप और हत्या का आरोप लगाया था। पुलिस ने बच्ची के परिजनों द्वारा दी गई तहरीर के आधार पर दोनों युवकों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया है।

बसपा मुखिया ने खड़ा किया सवाल –

बहुजन समाज पार्टी (BSP) प्रमुख मायावती ने घटना की निंदा करते हुए कहा कि अगर ऐसे ही अपराध होते रहे तो समाजवादी पार्टी सरकार और वर्तमान योगी आदित्यनाथ की सरकार में क्या अंतर रह जाएगा।


Leave a Reply

Your email address will not be published.