खनियाधाना: महिला बालविकास में तिरंगे झंडे का अपमान, तिरंगे झंडे को बनाया तमाशा


खनियाधाना। शिवकांत सोनी: यह मामला खनियाधाना के महिला बालविकास का है जहाँ आज स्वतंत्रता दिवस पर तिरंगे झंडे को गंदगी के बीच फहराया, उसके बाद उठाकर बंद कमरे के अंदर अंधेरे में रख दिया । जब मीडिया ओर तहसीलदार के रीडर व आर.आई पहुचे तो महिला बाल बिकाश अधिकारी अमित यादव ने हड़भडाहत में तिरंगे झंडे को मीडिया के सामने व तहसीलदार के रीडर व आर.आई के सामने ही फिर से नीचे झुकाते हुये बाहर रख दिया।

तहसीलदार के रीडर व आर.आई ने मौके पर अमित यादव की इस हरकत से खासा नाराज़ दिखे। जिसके तत्काल बाद उन्होंने महिला विकास अधिकारी का पंचनामा तैयार कर दिया।

महिला बालविकास अधिकारी ने कहा कि आज ध्वजारोहण तो मैने किया था, पर यह मेरे संज्ञान में नही की झंडे को किसने कमरे में रखा। और उनसे जब यह पूछा गया कि आपने हड़भडाहट में कमरे से बाहर झंडा क्यों रखवाया तो महिला बालविकास अधिकारी खनियाधाना बोल ही नही पाए।


Leave a Reply

Your email address will not be published.