गोण्डा: कुँवें में जहरीली गैस के रिसाव से पांच लोगों की हुई मौत


गोण्डा। शिवानंद मिश्रा: गोण्डा में दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है। जहां वर्षों पुरानी एक सूखे कुंवे में बछड़े के गिर जाने के बाद उसका रेस्क्यू करने के लिए एक युवक कुंवे में उतरा जिसके बाद बछड़े को निकाल लिया गया। इसी बीच युवक कुंवे के अंदर जहरीली गैस से बेहोश हो गया। यह सब देखते हुए कुंवे मे युवक को बचाने के लिए 4 लोग एक एक कर उतरे और सभी जहरीली गैस का शिकार होकर वहीं गिर कर बेहोश हो गए और सभी पांचों कुंवे में ही फंसे ही रह गए। जिन्हें बाहर निकालने के लिए जिला प्रशासन रेस्क्यू के प्रयास के तहत कुंवे से पांच लोगों को बाहर निकाला और अस्प्ताल भेजा जहां उन्हें डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। वहीं इस दुःखद घटना में एक ही परिवार के चार लोगों की जान चली गई।

गोण्डा नगर कोतवाली के राजमोहल्ला में स्थित वर्षों पुराना कुँवा जो कि सूखा था। उसमें एक बछड़ा गिर गया था। जिसे बाहर निकालने के प्रयास से एक युवक कुंवे के भीतर उतर कर बछड़े को बाहर निकालने का प्रयास कर उसे रेसक्यू कर लिया। लेकिन इसी बीच युवक कुवें में बेहोश हो गया। यह देख 4 और लोग कुंवे के भीतर दाखिल हो युवक को बाहर निकालने की कोशिश में जुट गए। लेकिन इसी बीच कुंवे में कोई जहरीली गैस के होने से सभी लोग कुंवे में ही फंस गए और सभी उसी कुंवे में एक एक कार बेहोश हो गए। घटना से पूरे क्षेत्र में हड़कम मच गया।

सूचना पर पहुची पुलिस ने लोगों के जान बचाने के लिए दमकल विभाग का सहारा लेते हुए कुंवे में पानी भराया। और रेस्क्यू कर पांचों डेड बॉडी को निकाला और उन्हें जिला अस्पताल भेजा। पूरे मामले की जानकारी देते हुए जिलाधिकारी गोंडा डॉ नितिन बंसल ने बताया एक बछड़े को बचाने के चक्कर में पहले एक युवक कुएं में उतरा वह बाहर नहीं आया तो दूसरा उसी के अंदर गया धीरे धीरे पांच लोग कुएं में गए।

जहां सभी बेहोश हो गए। घटना की जानकारी होते पुलिस बल के साथ फायर बिग्रेड नगर पालिका के साथ हमारे मजिस्ट्रेट भी मौके पर पहुंच गए थे। सभी को बाहर निकालकर जिला अस्पताल लाया गया, जहां डॉक्टरों ने पांचों को मृत घोषित कर दिया। सभी मृतकों की उम्र 18 वर्ष से ऊपर है, आपदा राहत कोष के तहत सभी को मुवावजा दिलाया जाएगा।


Leave a Reply

Your email address will not be published.