फीस में 20 फीसद की होगी छूट, अभिभावकों को मिली राहत


लखनऊ। अनएडेड प्राइवेट स्कूल एसोसिएशन के अध्यक्ष अनिल अग्रवाल ने 20 फीसद फीस माफी की घोषणा की है। एसोसिएशन ने लॉकडाउन के दौरान आर्थिक संकट का सामना करने वाले अभिभावकों को फीस में बड़ी राहत दी।

एसोसिएशन के अध्यक्ष ने आयोजित कार्यक्रम के दौरान बताया कि यह व्यवस्था सरकारी कर्मचारी अथवा मेडिकल व्यवसाय अथवा ऐसे लोग जिनका लॉकडाउन के दौरान व्यवसाय ठीक था इनके लिए नहीं होगी। इस दौरान सीएमएस की अध्यक्ष डॉ. गीता गांधी ने कहा कि हम इस संकट की घड़ी में अभिभावकों के साथ हैं। हम बच्चों की पढ़ाई रुकने नहीं देंगे। पर इस स्थिति में अभिभावकों को भी विद्यालयों की समस्याओं को समझना चाहिए। इस दौरान अन्य विद्यालयों के प्रबंधक भी मौजूद रहें।

एसोसिएशन ने बताया की फीस में 20 फीसद की छूट आर्थिक स्तिथि से कमज़ोर अभिभावकों को दी जाएगी जिसके लिए उन्हें आवेदन करना पड़ेगा। पुराने बच्चों से एडमिशन फीस नहीं ली जाएगी पर दाखिला लेने वाले बच्चों से ली जाएगी। स्कूल बंद रहने की अवधि मेंटीनेंस चार्जेज, लाइब्रेरी शुल्क नहीं ली जाएगी।

अभिभावकों को स्कूल के प्रबंधक अथवा प्रिंसिपल से मिलकर प्रार्थना पत्र देकर उसमे आर्थिक संकट का जिक्र करना होगा इसके बाद ही उन्हें फीस में छूट मिलेगी। इसके अलावा कुछ ऐसे भी अभिभावक हैं जिनका वेतन समय से नहीं आ रहा है अथवा कम मिल रहा है उन्हें साक्ष्य के तौर पर अपने वेतन के बैंक खाते की डिटेल्स लगानी होगी। यह प्रक्रिया अभिभावक तत्काल ही शुरू कर दें।
अनिल अग्रवाल ने बताया कि सक्षम अभिभावक 10 अगस्त तक अपने बच्चों की फीस जमा कर दें नहीं तो उनके बच्चों की ऑनलाइन क्लासेज बन्द कर दी जाएंगी। इसकी जिम्मेदारी अभिभावकों की खुद होगी। क्योंकि फीस जमा न होने के कारण विद्यालय बन्दी की कगार पर हैं। हम शिक्षकों की और स्टाफ की फीस देनी है। हमारे शिक्षक इस समय दोगुनी मेहनत करके बच्चो को शिक्षा से जोड़कर उनका भविष्य संवारने में लगे हैं।


Leave a Reply

Your email address will not be published.