मेरठ में फलफूल रहा है नकली नोटों का कारोबार

मेरठ। मेरठ में नकली नोटों का कारोबार तेजी से फल-फूल रहा है। पुलिस ने एक ऐसी गैंग का पर्दाफाश करते हुए 4 लोगों को गिरफ्तार किया है

, जो धड़ल्ले से नकली करेंसी एनसीआर में खपा रहे थे। पुलिस गिरफ्त में 2 महिलाएं और 2 पुरुष आए हैं।

ये गैंग नई करेंसी 2000, 500-200 रुपए के नोट नकली तैयार करके बाजार में खपा रहा थी।

पुलिस ने इनके पास 5,42,400 रुपए के जाली नोट व 97,500 रुपए अर्द्धनिर्मित जाली नोट व नकली मुद्रा छापने का प्रिंटर व अन्य साम्रगी बरामद की है।

मेर थाना गंगानगर पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली थी कि बक्सर चौराहे पर कुछ संदिग्ध व्यक्ति नकली करेंसी लेकर घूम रहे है। पुलिस ने सूचना पर वाहनों की चेकिंग करते हुए

आसपास के क्षेत्रों की तलाशी ली। इसी दौरान पुलिस को सीएनजी पंप के पास नकली नोटों के साथ 2 महिलाएं मिलीं

जिनके पास से पुलिस ने 500-500 रुपए के 10 तथा 200-200 रुपए के 19 नकली नोट बरामद किए।
नकली नोटों के साथ पकड़ी गईं महिलाओं ने पूछताछ में बताया कि किराए के मकान में रोबिन और सिकंदर रहते हैं

और वहीं इन नोटों को तैयार करके देते हैं यानी नकली नोट खपाने के लिए ये शातिर महिलाओं का सहारा ले रहे थे।

पुलिस ने महिलाओं की सूचना पर सुभाष नगर में दबिश देकर दोनों लोगों को गिरफ्तार कर लिया और

उनके कब्जे से नकली नोट बनाने के उपकरण (कलर प्रिंटर, 3 हरी चमकीली सैलो टेप, 4 कटर, असली नोटों से 2000-2000 व 500-500 के नोटों के कलर प्रिंट तैयार करने की डाई,

शीशा, सफेद पेपर, 2 स्केल) तथा 5 लाख 33 हजार 600 रुपए के नकली नोट तथा 97 हजार 500 रुपए अर्द्धनिर्मित नकली नोट भी बरामद किए हैं।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *