चित्रकूट: बाढ़ के कहर ने ली युवक की जान, 22 घंटे से स्थानीय लोगो के सहारे जिला प्रशासन


चित्रकूट। संजय साहू: कंठीपुर में बाइक से चैकडैम क्रॉस करते समय ग्रामीण युवक लवकुश उर्फ चुन्नू पिपरावल नदी में बह गया। युवक के पिता ने बताया कि दिन के लगभग 12 बजे उसका बेटा चुन्नू बाइक से रगौली गांव जा रहा था और वह बढ़े हुए नदी के रपटे को पार कर रहा था और बाइक डिस बैलेंस होंने से नदी में गिर गया। उस समय उसके साथ गांव की एक महिला भी बैठी थी जो गहरे पानी मे गिरी थी उसी को बचाने के चक्कर मे युवक नदी में कूद गया और महिला को बाहर की तरफ निकालते वक्त खुद पानी के तेज बहाव में बह गया। महिला की सूचना पर परिजन और गांव वाले मौके पर पहुच कर खोजबीन शुरू किया लेकिन जब कोई सुराग नही लगा तो प्रशासन को सूचना दी गयी। मौके पर तहसीलदार पहुचे किंतु कोई गोता खोर न होने से अभी तक युवक का कुछ पता नही चल पाया है।

ग्राम प्रधान चंचल चित्त पटेल ने बताया कि घटना के बाद जिला प्रशासन को सूचित कर दिया गया था लेकिन कोई व्यवस्था न हो पाने की वजह से युवक की खोज नही की जा सकी है जिसको लेकर परिजनों और ग्रामीणों में गुस्सा भी है।

जिले में दो दिनों से हो रही बारिश के चलते नदी, नालों में पानी अधिक आने से बाढ़ की स्तिथि बनी हुई है। जिसमे आज ये हादसा हुआ है। मौके पर उप जिलाधिकारी रामप्रकाश और तहसीलदार दिलीप कुमार भी पहुँचकर घटना का जायजा लिया और गोता खोर लगाए गए। 22 वर्षीय नवयुवक लवकुश उर्फ चुन्नू के बह जाने के बाद से कई घंटे हो गए है। जिससे डूबकर मौत का अंदेशा है। परिवार को जिला प्रशासन की तरफ से आर्थिक मदद का भरोसा दिया लेकिन अब 22 घण्टे बीत जाने के बाद भी नदी में बहे युवक का शव नही हुआ बरामद। स्थानीय गोता खोरो के भरोसे जिला प्रशासन कर रहा है रेस्क्यू। प्रशासनिक अधिकारियों की लचर व्यवस्था से ग्रामीणों में बढ़ रहा है आक्रोश। सदर कोतवाली क्षेत्र के कंठीपुर का मामला।


Leave a Reply

Your email address will not be published.