चंदौली। क्षेत्रीय विधायक से असंतुष्ट दिखे शहीद के परिजन


चंदौली। उमेश सिंह: धानापुर थाना क्षेत्र के ग्राम पूरा क्षेत्र दुबे निवासी सैनिक कुलदीप कुमार के जम्मू कश्मीर राज्य के पूछ के राजौरी सेक्टर में रहस्यमय ढंग से हुए मौत को लेकर अस्पष्ट कारण ना मिलने की वजह से असंतुष्ट दिख रहे हैं। आपको बता दें कि 6 सितंबर को सेना के कर्नल ने परिजनों को सूचना दिया की कुलदीप कुमार की बाथरूम जाते समय हार्ट अटैक आ गया था, जिनको सेना के हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया जहाँ उनकी मौत हो गई है। जिसकी जानकारी होते ही क्षेत्र में खबर जंगल की आग की तरह पूरे गांव में फैल गई। सभी लोग शहीद के घर पहुंचकर सांत्वना देने लगे।

शहीद जवान का शव प्राइवेट एम्बुलेंस में देख भड़के क्षेत्रवासी:

आपने सीमा पर शहीद होने वाले वीर सपूतों का पार्थिव शरीर सेना के वाहन से आते हुए देखा होगा लेकिन प्राइवेट एंबुलेंस आते नहीं देखा होगा जिससे पूरे क्षेत्र में नाराजगी देखने को मिली। क्षेत्र के लोगों ने शहीद के पार्थिव शरीर को धानापुर थाना चौराहे पर रखकर चक्का जाम कर दिया। यह धरना अनवरत 7 घंटे तक चला जिसके बाद सेना के अधिकारियों द्वारा लिखित आश्वासन दिया गया कि शहीद जवान की अंतिम विदाई राजकीय सम्मान के साथ होगी और परिवार के एक सदस्य को नौकरी और परिवार को मुआवजा दिया जाएगा। इसके बाद चक्का जाम खत्म हुआ।

शहीद की विधवा ने उच्च स्तरीय जांच की उठाई माँग:

गुरुवार को सैयदराजा के पूर्व विधायक मनोज कुमार सिंह डब्लू ने परिजनों से मिलकर इस दुख की घड़ी में सांत्वना देने पहुंचे। शहीद की पत्नी ममता देवी से मिलकर ढांढस बंधाया पूर्व विधायक से शहीद की पत्नी ममता देवी ने मौत का कारण अस्पष्ट ना होने पर नाराजगी जताते हुए उच्च स्तरीय जांच करवाने की मांग की। पूर्व विधायक ने आश्वस्त किया कि मैं रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह से मिलकर पूरे मामले की जांच की मांग करूंगा।


Leave a Reply

Your email address will not be published.