भाजपा केपूर्व पार्षद समेत 60 के खिलाफ मुकदमा दर्ज….

पूर्व पार्षद समेत 60 के खिलाफ मुकदमा दर्ज : लखनऊ में महिला अधिकारियों से अभद्रता का मामला
लखनऊ। 
राजधानी में सोमवार को लालकुआं वार्ड में सफाई अभियान के दौरान नगर निगम की टीम का विरोध और हंगामा करने के मामले में

भाजपा के पूर्व पार्षद अमित सोनकर समेत 60 अज्ञात लोगों के खिलाफ हुसैनगंज थाने में मुकदमा दर्ज किया गया है।

अवर अभियंता किशोरी लाल की तरफ से दर्ज कराई गई एफआइआर में अमित सोनकर के अलावा केतन सोनकर, विशाल सोनकर, विशाल सोनकर, बीटू सोनकर को नामजद किया गया है।

इन पर सात धाराओं में मुकदमा दर्ज कराया गया है। इसमे भारतीय दंड संहिता 1860 की धारा 147, 269, 270, 332, 353, 504,506 शामिल हैं।

तहरीर में कहा गया कि लालकुआं में नगर निगम सफाई अभियान चला रहा था कि तभी अपने साथियों के पूर्व पार्षद अमित सोनकर आ गए और हंगामा करने लगे।

महिला अधिकारियों के साथ अभद्रता की गई और सरकारी कार्य में बाधा डाला गया। इन लोगों ने अन्य कर्मचारियों के साथ अभद्रता की, गालियां दी और जान से मारने की धमकी दी गई।

पूर्व पार्षद ने अपनी टीम के साथ कोविड-19 वैश्विक महामारी रोकने के लिए चल रहे अभियान में भी बाधा डाली गई।

सोमवार को नगर निगम को लालकुआं क्षेत्र में भारी विरोध झेलना पड़ा। भाजपा के पूर्व पार्षद अमित सोनकर ने सड़क घेरकर खड़े ठेलों को हटाने का विरोध करते हुए

हंगामा काटा था। अपर नगर आयुक्त डॉ.अर्चना द्विवेदी और जोनल अधिकारी दिलीप कुमार डे सोमवार सुबह दस बजे लालकुआं वार्ड में सफाई व्यवस्था का निरीक्षण कर रहे थे।

टीम के साथ लालकुआं वार्ड के पार्षद सुशील कुमार तिवारी ‘पम्मी’ भी थे। टीम छितवापुर पजावा के पास शौचालय के पास पहुंची

तो सड़क घेरकर कई ठेले खड़े थे और कबाड़ एकत्र था।इसी बीच पूर्व पार्षद अमित सोनकर आ गए और भीड़ एकत्र हो गई।

बेकाबू भीड़ ने नगर निगम टीम को वापस जाने का दबाव बनाया। भीड़ अपर नगर आयुक्त डा. अर्चना द्विवेदी की तरफ बढऩे लगी, जिसकी अगुआई पूर्व पार्षद कर रहे थे।

अपर नगर आयुक्त ने कहा कि आप लोग मॉस्क नहीं पहने हैं और दूर से बात कीजिए।

अमित सोनकर ने कहा कि वह पूर्व पार्षद हैं और आप अछूत समझकर रोक रही हैं।

कार्रवाई को जाति रंग देने की कोशिश की गई तो कुछ लोगों ने पार्षद सुशील तिवारी पर आरोप जड़ दिया गया कि यह कार्रवाई उनके शह पर हो रही है।

अवर अभियंता प्रतिमा यादव और खाद्य एवं सफाई निरीक्षक रूबी उपाध्याय से भी अभद्रता की गई और अवर अभियंता को भीड़ से बचकर निकलना पड़ा।

नगर आयुक्त अजय कुमार द्विवेदी ने पूर्व पार्षद अमित सोनकर के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया गया है।

पूर्व पार्षद न उनके लोगों ने नगर निगम की टीम के साथ मारपीट करने का प्रयास किया और अभद्रता की।

सभी के खिलाफ सरकारी कार्य में बाधा डालने और अभद्रता करने की कार्रवाई की जा रही है।

क्‍या कहते हैं लालकुआं के पूर्व पार्षद ?
लालकुआं पूर्व पार्षद अमित सोनकर के मुताबिक, ‘अपर नगर आयुक्त डा. अर्चना द्विवेदी की बात का तरीका ठीक नहीं था और जिस तरह से वह बात कर रहीं थी, उससे लग रहा था

कि वह किसी के कहने पर ही वहां आई हैं। मैंने मुख्यमंत्री और अनुसूचित जाति आयोग में भी शिकायत की है

कि अपर नगर आयुक्त ने कहा कि तुम लोग गंदगी में ही रहना पसंद करते हो और अन्य जातिसूचक बात की।

क्‍या कहते हैं अपर नगर आयुक्त ?
अपर नगर आयुक्त डॉ. अर्चना द्विवेदी के मुताबिक, पूर्व पार्षद गलत आरोप लगा रहे हैं। हम तो उन्हें पहचानते भी नहीं है।

वह टीम के साथ बिना मॉस्क पहने आगे बढ़ रहे थे तो मैंने कहा कि दूर से बात कीजिए तो पूर्व पार्षद व भीड़ आक्रामक हो उठी और मारपीट की मुद्रा में आ गई।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *