प्रदेश ही नहीं देश के युवाओं के बीच भी आदर्श माने जाते थे बृजभूषण तिवारी: अखिलेश यादव


लखनऊ। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने आज समाजवादी नेता तथा पूर्व सांसद श्री बृजभूषण तिवारी के 79वें जन्मदिवस पर अपने बयान में कहा कि श्री बृजभूषण तिवारी डाॅ0 राममनोहर लोहिया के प्रिय शिष्य थे। इलाहाबाद विश्वविद्यालय छात्र संघ के अध्यक्ष और लोकसभा तथा राज्य सभा के सदस्य रहे थे। समाजवादी पार्टी में वे राष्ट्रीय उपाध्यक्ष थे। इस सबके बावजूद वे बहुत सरल और सादा जीवन जीते थे। डाॅ0 लोहिया के चिंतन से प्रभावित होकर वे आजीवन समाजवादी विचारधारा और आंदोलन से जुड़े रहे।

यादव ने कहा कि तिवारी ने सदैव छात्रों, युवाओं, किसानों और श्रमिकों के हितों की लड़ाई लड़ीं। इसके लिए जेल जाने, धरना-प्रदर्शन करने में भी वे अग्रणी रहते थे। खासकर युवाओं के संघर्षों में वे सदैव सक्रिय रहे। प्रदेश ही नहीं देश के युवाओं के बीच भी वे आदर्श माने जाते थे। आपातकाल के विरोध में वे लोकनायक जयप्रकाश नारायण जी के आव्हान पर जेल भी गए।

अखिलेश यादव ने कहा कि श्री तिवारी हमेशा समाजवादी पार्टी के संगठन को मजबूत करने में लगे रहे। वे पार्टी के राजनीतिक-आर्थिक पक्ष की प्रस्तुति सराहनीय ढंग से करते थे। वे कहा करते थे कि बड़ा बनने के लिए प्रयासरत रहने से बेहतर है कि विचार व सोच बड़़ी रखो। उनका यह भी कहना था कि गांव की गलियों में फटे पुराने कपड़ों से तन ढंक कर निकलने वाले व्यक्ति के पास ही समाजवाद पलता है। हम समाजवादियों की पीढ़ी के लिए वे प्रेरणास्रोत हैं।


Leave a Reply

Your email address will not be published.