अयोध्या: राम जन्मभूमि में तैनात सिपाही का शव मिला इटावा जनपद में, पुलिस को है हत्या का आशंका


अयोध्या। मयंक श्रीवास्तव: राम नगरी अयोध्या के थाना राम जन्मभूमि में तैनात सिपाही योगेश चौहान का शव इटावा जनपद के लाबेदी थाना क्षेत्र में संदिग्ध परिस्थितियों में पाया गया है। इटावा पुलिस मृतक सिपाही योगेश चौहान का पोस्टमार्टम करवा रही है। बताया जा रहा है मृतक सिपाही योगेश चौहान का शव भीगा हुआ पाया गया। सिपाही योगेश चौहान के साथ थाना राम जन्मभूमि में ही तैनात एक महिला सिपाही भी उसके साथ गई थी। मृतक सिपाही योगेश चौहान मथुरा का रहने वाला था तो महिला सिपाही इटावा की। सिपाही योगेश चौहान की अवैध संबंधों के चलते हत्या की आशंका जताई जा रही है हालांकि पोस्टमार्टम की रिपोर्ट के बाद ही सच सामने आएगा।

अयोध्या के डीआईजी/ एसएसपी दीपक कुमार ने बताया कि सिपाही योगेश चौहान 7 अक्टूबर को एक हफ्ते की छुट्टी लेकर अपने गृह जनपद मथुरा के लिए रवाना हुआ था और उसके साथ ही महिला सिपाही 7 अक्टूबर को ही उसके साथ अपने गृह जनपद इटावा के लिए रवाना हुई थी।

इसकी छुट्टी 3 दिन की 8 अक्टूबर से थी लेकिन ये 7 अक्टूबर को ही सिपाही योगेश चौहान के साथ रवाना हो गई थी। 9 अक्टूबर की रात सिपाही योगेश चौहान का शव जनपद इटावा के लाबेदी थाना क्षेत्र में पाया गया। डीआईजी/ एसएसपी दीपक कुमार ने बताया कि 7 अक्टूबर को सिपाही के रवाना होने के बाद जब वह घर नहीं पहुंचा तो उसके घरवालों ने अयोध्या पुलिस से संपर्क किया तो उसकी आखिरी लोकेशन लखनऊ पाई गई थी लेकिन बाद में इटावा पुलिस ने सूचना दी कि उसका शव लाबेदी थाना क्षेत्र मे पाया गया है और उसका शव भीगा हुआ था।

महिला आरक्षी को आगरा पुलिस लाइन में रखा गया है जहां पर उससे पूछताछ चल रही है।महिला आरक्षी को लाने के लिए अयोध्या पुलिस की एक टीम भी आगरा के लिये रवाना हो चुकी है। आगरा से उसे अयोध्या लाया जाएगा जहां पर सिपाही योगेश चौहान की मौत को लेकर उससे पूछताछ होगी। संदिग्ध परिस्थितियों में मिले सिपाही योगेश चौहान को लेकर तरह-तरह के कयास लगाए जा रहे हैं यहां तक कि महिला सिपाही से अवैध संबंध को लेकर भी उसकी हत्या की आशंका जताई जा रही है हालांकि सच क्या है यह तो पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद ही सामने आएगा।


Leave a Reply

Your email address will not be published.