अयोध्या: राममंदिर भूमिपूजन के बाद अब सुन्नी सेंट्रल वक्फ बोर्ड भी हुआ सक्रिय, मस्जिद की जमीन का किया चिन्हांकन


अयोध्या में राममंदिर भूमि पूजन के बाद राम जन्मभूमि से लगभग 25 किलोमीटर दूर लखनऊ हाईवे पर अब सुन्नी सेंट्रल वक़्फ़ बोर्ड ने भी मस्जिद निर्माण में अपनी भूमिका को सक्रिय करना शुरू कर दिया है।वही सुन्नी सेंट्रल वक़्फ़ बोर्ड की 3 सदस्यीय टीम सोहावल तहसील क्षेत्र स्थित धन्नीपुर गांव पहुंचकर सुप्रीमकोर्ट के आदेश के अनुपालन में 5 एकड़ ज़मीन का सीमांकन कराने के साथ साथ चिन्हांकन भी करवाया। माना जा रहा है कि जल्द ही सुन्नी वक़्फ़ बोर्ड द्वारा जल्द ही अपनी 5 एकड़ जमीन पर निर्माण करना शुरू करेगा। बताते चलें कि सुप्रीमकोर्ट के आदेश के बाद जिला प्रशासन द्वारा सोहावल तहसील क्षेत्र के धन्नीपुर गांव में 5 एकड़ कृषि भूमि सुन्नी वक़्फ़ बोर्ड को सौंपी गई थी। 5 अगस्त को राममंदिर निर्माण के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा किये गए भूमि पूजन के बाद सुन्नी वक़्फ़ बोर्ड भी मस्जिद निर्माण के लिए तेज़ी ला रहा है इसी क्रम में बोर्ड से तीन सदस्यों की टीम आज सोहावल तहसील पहुंचकर वंहा से राजस्व टीम के साथ चिन्हित ज़मीन पर पहुंची और नाप जोख करने के बाद 5 एकड़ जमीन का चिन्हीकरण कराया गया। हालांकि इस दौरान सुन्नी वक़्फ़ बोर्ड के सदस्यों ने मीडिया से दूरी बनाए रखी। बताया जा रहा है कि 5 एकड़ जमीन पर सुन्नी वक़्फ़ बोर्ड द्वारा गठित ट्रस्ट मस्जिद के साथ साथ शिक्षा के लिए मदरसा व एक अस्पताल का निर्माण कराएगा।

सोहावल तहसील के उपजिलाधिकारी विजय कुमार मिश्रा ने बताया कि बोर्ड के सदस्यों से मुलाकात होने के बाद नायब तहसीलदार और राजस्व टीम को भेजकर ज़मीन का सीमांकन कराने के साथ साथ चिन्हांकन कराया गया है। वंही रौनाही के ग्राम प्रधान प्रतिनिधि मेराज अहमद ने बताया कि ज़मीन का सीमांकन और चिन्हांकन होने के बाद अब मेड़ बंधाई का कार्य बोर्ड द्वारा किया जाएगा। फिलहाल सुन्नी वक़्फ़ बोर्ड के आसिफ, फरहान व एक अन्य सदस्यों ने धन्नीपुर गांव पहुंच बोर्ड को मिली ज़मीन पर सीमांकन कराया जिस पर मस्जिद, मदरसा व अस्पताल बनाने का काम जल्द शुरू किया जावेगा।


Leave a Reply

Your email address will not be published.