पीएचसी प्रभारी एवं स्वास्थ्य प्रबंधक के खिलाफ आशा कार्यकर्ताओं ने की नारे बाजी


पटना। विजय कुमार शर्मा । गण्डक पार मधुबनी पीएचसी के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी बालेश्वर शर्मा के द्वारा हिटलरशाही रवैया अपनाने तथा प्रखंड स्वास्थ्य प्रबन्धक विपिन बिहारी पर मानदेय भुगतान में रिश्वत मांगने का आरोप लगाते हुए उक्त पीएचसी में कार्यरत दर्जनों दर्जन की संख्या में आशा व आशा फैसिलेटर गोलबंद होकर रविवार को महारानी जानकी कुँवर व्यायामशाला परिसर बांसी में आक्रोशपूर्ण प्रदर्शन किया। इस दौरान प्रदर्शनकारियों ने भ्रष्टाचार मिटाना है तो प्रभारी को हटाना है, मुर्दाबाद मुर्दाबाद हेल्थ मैनेजर मुर्दाबाद, बंद करो बंद करो आशा कर्मियों पर अत्याचार बंद करो, नहीं चलेगी नहीं चलेगी बालेश्वर तेरी तानाशाही नहीं चलेगी, नारेबाजी कर बिगुल फुकी इस बाबत मीडिया से रूबरू होते हुए आशा कार्यकर्ताओ ने बताया कि वर्षो से हमारी मानदेय पोषाहार राशि अभी तक बाकी है। जिसकी भुगतान नही होने से हम सभी को कोविड19 में लगे लॉक डाउन से काफी परेशानी का सामना करना पड़ा है।

आरोप लगाते हुए कहा की स्वास्थ्य प्रबंधक द्वरा भुगतान से पूर्व ही एक हजार से लेकर दो हजार तक ले लिया जाता है। तब हम लोगो के खाते में पैसा भेजा जाता है। साथ ही प्रभारी हमेशा अभद्र भाषा का प्रयोग किया जाता है। कहने पर कहते है कि जहा जाना है जाओ जो करना है करो हमारा कोई कुछ नही बिगाड़ पाएगा।

इस बाबत प्रबंधक प्रभारी ने बताया कि खाते में पर्याप्त पैसे नही होने के कारण नही भेजा जा रहा है। हम आगे भी भेज चुके है जब पैसा आएगा तो समय से भेज दिया जाएगा।

वही प्रभारी बालेश्वर शर्मा ने बताया कि समयानुसार कार्य नही करने पर विधि व्यवस्था ठीक रखने के लिए कहा जाता है जिसके चलते नाराज आशा कार्यकर्ता अंजाम लगा रही है जबकि ऐसा कोई बात नही है।


Leave a Reply

Your email address will not be published.