अलीगढ़: चारपाई-चूल्हा लेकर सराफा बाजार में धरने पर बैठीं मां-बेटियां


अलीगढ़। मोहम्मद सहनवाज: फूल चौराहे सराफा बाजार में खूब हंगामा हुआ। यहां गिरवी रखे जेवर लेने आई मां बेटियां सराफ की मनमानी से परेशान होकर अपने घर का चूल्हा-चारपाई लेकर धरने पर बैठ गईं। देर रात तक वे धरने पर बैठी थीं और पुलिस व इलाके के लोग समझाने का प्रयास कर रहे थे।

ममता चौहान पत्नी उमेश सिंह निवासी राजेंद्र नगर सारसौल बन्नादेवी खुद को भाजपा के बरौली मंडल की पदाधिकारी व आरएसएस से जुड़ा बता रही हैं। बकौल ममता उन्होंने तीन साल पहले फूल चौराहा स्थित राजेंद्र चौधरी निवासी बैंक कॉलोनी के पास कुछ जेवर गिरवी रखे थे। जिसमें उन्होंने साढ़े 23 तौला सोना और एक किलो चांदी रख कर तीन लाख 26 हजार रुपये कर्ज लिए थे। 

बीती 11 अगस्त को पैसे चुका कर जेवर वापस लेने आईं तो दुकानदार ने ब्याज सहित सात लाख 14 हजार रुपये का हिसाब बना दिया। जिसमें मोलभाव के बाद 6 लाख 15 हजार 700 रुपये देने की बात तय हो गई। दुकानदार ने कहा कि पैसों का इंतजाम करो तो जेवर बैंक लॉकर से निकाल दूंगा मगर वह दुकान से गायब हो गया। इस पर ममता ने इस मामले में एडीएम वित्त से दुकानदार के लाइसेंस की जांच करा दी। खुद दुकान पर जाती रही।  बकौल ममता जांच शुरू होने पर दुकानदार ने उनको धमकी देना शुरू कर दिया। वह दुकान पर पहुंची तो पता चला कि वह दुकान बेच कर चला गया है। बगल की दुकान में निर्माण कार्य हो रहा है। ये सब देख ममता अपनी बेटियों संध्या और लकी के साथ मौके पर ही धरने पर बैठ गईं। वह अपने साथ चारपाई व चूल्हा तक लेकर आई हैं। 

उनका कहना है कि जब तक जेवर नहीं मिलेंगे, वह नहीं जाएंगी। पुलिस ने बमुश्किल समझा बुझा कर मामले को शांत कराना चाहा, लेकिन बात नहीं बनी। दुकानदार का पता नहीं चल पाया है, पुलिस उसको तलाश कर रही है। 


Leave a Reply

Your email address will not be published.